गुरुवार, 1 अप्रैल 2010

उदारता

एक बार इंग्लैण्ड के प्रधानमंत्री लायड जार्ज सभा में अपने मंत्रिमंडल के कार्यों की तारीफ कर रहे थे । तभी एक विरोधी ने खड़े होकर जार्ज से कहा, ''आप तो शायद वहीं हैं, जिस के पिता गधे की गाड़ी चलाया करते थे ।''यह सुनकर सब हंसने लगे। तब जार्ज ने शांत स्वर में कहा,''दोस्तों, मेरे पिता वाकई गधे की गाड़ी चलाया करते होंगे । पर वह गाड़ी तो अब नहीं हैं । हां, यह गधा जरूर बच गया है ।'' इस पर पूरा सदन ठहाकों से गूंज उठा ।

4 टिप्‍पणियां:

Dr. Smt. ajit gupta ने कहा…

बहुत बढिया।

JHAROKHA ने कहा…

yah bade avam sahriday logo ka badppan hi hota hai jp unko kisi bhi paristhiti me asahaj nahi hone deta hai.

shama ने कहा…

Kya niruttar kar diya!

manish ने कहा…

best ans for the point