मंगलवार, 8 जून 2010

लगन

टामस एलवा एडीसन एक महान् वैज्ञानिक थे । उन दिनों वह स्टोरेज बैटरी बनाने में लगे हुए थे । पच्चीस बार उन्होंने प्रयत्न किया, पर वह अपने उद्देश्य में सफल न हो सके ।
जब उन्होंने छब्बीसवीं बार प्रयत्न करना प्रारम्भ कर दिया तो एक आदमी ने उनसे पूछा, ''आप इसे बनाने की 25 बार कोशिश कर चुके हैं और असफल रहे हैं । इतना समय और परिश्रम आपने व्यर्थ में ही गंवाया । इससे आप को क्या मिला?''
एडीसन मुस्कराते हुए तपाक से बोले, ''25 ऐसे ‘तरीके’ जिनसे स्टोरेज बैटरी किसी हालत में नहीं बन सकती ।''

4 टिप्‍पणियां:

आशीष/ ASHISH ने कहा…

Prerak prasang!

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" ने कहा…

सच है लगन और परिश्र्म से क्या कुछ नहीं हासिल किया जा सकता....
प्रेरक प्रसंग!

Mrs. Asha Joglekar ने कहा…

Wahbadhaon ke bawajood apane kam me lage rahane ki prerana isase achchi aur kya ho sakti hai

चन्द्र कुमार सोनी ने कहा…

वाह!!!!
लगन हो तो ऐसी.
धन्यवाद.
WWW.CHANDERKSONI.BLOGSPOT.COM